टेस्ट लैंप क्या होता है?| टेस्ट लैंप कैसे बनाते हैं। | What is a test lamp? | How to make Test Lamp In Hindi

दोस्तों इलेक्ट्रिकल का काम करने के लिए टेस्ट लैंप (Test Lamp) बहुत ही उपयुक्त और सस्ता टूल है। जो कि आप घर पर ही बना सकते हैं। और हर एक इलेक्ट्रीशियन के पास टेस्ट लैंप (Test Lamp) तो होनाही चाहिए। टेस्ट लैंप की मदत से आप आसानी से किसी फॉल्ट का पता लगा सकते हैं। और आपका समय भी बचता है।

इस आर्टिकल में आप सीखेंगे की,

  • टेस्ट लैंप (Test Lamp) क्या होता है?
  • टेस्ट लैंप (Test Lamp) कितने प्रकार के होते हैं?
  • टेस्ट लैंप (Test Lamp) किस तरह बनाया जाता है?
  • टेस्ट लैंप (Test Lamp) का उपयोग किस तरह से किया जाता है?

विषय सूची

टेस्ट लैंप (Test Lamp) क्या होता है?

टेस्ट लैंप (Test Lamp) यह एक ऐसा इलेक्ट्रिकल टेस्टिंग टूल है, की जिसकी मदत से हम बड़ी ही आसानी से इलेक्ट्रिकल सप्लाई का फेज, न्युट्रल और अर्थिंग चेक कर सकते हैं। या 

किसी फॉलटी (Faulty Electrical Equipment) को चेक कर सकते हैं। 3 फेज सप्लाय भी टेस्ट लम्प से चेक किया जाता है।

टेस्ट लैंप (Test Lamp) कितने प्रकार के होते हैं?

टेस्ट लैंप (Test Lamp) नीचे बताए गए प्रकार के होते हैं।

  1. सिंगल लैंप टेस्ट लैंप (साधा टेस्ट लैंप Simpal Test Lamp)
  2. पोर्टेबल सीरीज टेस्ट लैंप ( Portable Series Test Lamp) 
  3. सीरीज टेस्ट लैंप (Series Test Lamp) 

आपको इस आर्टिकल मे 3 प्रकार के टेस्ट लैंप (Test Lamp) बनाना सिखाएंगे। एक तो बहुत आसान है। जो आप मे से बहुतों को पता होगा कि यह टेस्ट लैंप (Test Lamp) तरह बनाया जाता है?

सिंगल लैंप टेस्ट लैंप (साधा टेस्ट लैंप Simpal Test Lamp)

साधे टेस्ट लैंप (Test Lamp) का उपयोग फेज, न्यूट्रल और अर्थिंग चेक करने के लिए या हाउस वायरिंग के फोल्ट्स का पता लगाने के लिए किया जाता है।Test Lamp Sercuit Diagram

सिंगल टेस्ट लैंप (Test Lamp) बनाने का तरीका | Procedure of Making Single Test Lamp In Hindi

सिंगल टेस्ट लैंप (Single Test Lamp) बनाने के लिए किन चीजों की जरूरत होती है?

  1. एक पेन्डेन्ट बल्ब होल्डर (Pendant Bulb Holder)
  2. वायर (wire) कम से कम 2 फुट
  3. एक इनकेडिसेन्ट बल्ब (Incandescent Lamp) 100 वॅट या 200 वॅट का

Test Lamp Kaise Banaye

दोंतों एक साधा टेस्ट लैंप (Test Lamp) बनाने के लिए हमें बस इतनेही सामान की जरूरत होगी

test lamp kaise banate hain

स्टेप 1

2 समान लंबाई के वायर के टुकड़े ले। जैसा कि इमेज में दिखाया गया है। और wire के उन दोनों टुकड़ों के दोनों सिरों का इंसुलेशन निकाल ले जैसा दिखाया गया है। 

स्टेप 2

होल्डर की कैप निकले। दोनों वायर के एक-एक सिरे के कंडक्टर को पेन्डेन्ट बल्ब होल्डर के टर्मिनल में लगाकर टर्मिनल का स्क्रू टाइट करें। और होल्डर की कैप लगा ले।

स्टेप 3

पेन्डेन्ट बल्ब होल्डर में 100 वॉट या 200 वॉट का बल्ब लगाए। जैसा कि दिखाया गया है।

तो दोस्तों आपका टेस्ट लैंप (Test Lamp) तैयार है। इसकी सहायता से आप चालू लाइन में फेज, न्युट्रल और अर्थिंग चेक कर सकते हैं। या हाउस वायरिंग के फॉल्ट का पता लगा सकते हैं।

अगर आपको पता नही की टेस्ट लैंप (Test Lamp) से  फेज, न्युट्रल और अर्थिंग कैसे चेक करते हैं तो यह पढ़े।

स्विच बोर्ड में फेज न्यूट्रल और अर्थिंग कैसे चेक करते हैं ?

पोर्टेबल सीरीज टेस्ट लैंप (Portable Series Test Lamp)

यह दूसरे प्रकार का टेस्ट लैंप (Test Lamp) है। उससे आप फेज, न्यूट्रल और अर्थिंग तो चेक कर ही सकते हैं लेकिन उसे एक सीरीज टेस्टिंग बोर्ड (Series Testing Board) की तरह भी use कर सकते हैं, जिस तरह एक सीरीज टेस्टिंग बोर्ड (Series Testing Board) का इस्तेमाल किसी इलेक्ट्रिकल इक्विपमेंट्स रिपेयरिंग की दुकान पर किया जाता है,

सीरीज टेस्टिंग बोर्ड को काम की जगह पर ले जाना और इस्तेमाल करना बहुत कठिन होता है। लेकिन आप इस पोर्टेबल सीरीज टेस्ट लैंप (Portable Series Test Lamp) को आसानी से कहीं भी ले जा सकते हैं। और आसानी से use भी कर सकते हैं।

पोर्टेबल सीरीज टेस्ट लैंप (Test Lamp) बनाने का तरीका | How to make Portable Series Test Lamp In Hind

पोर्टेबल सीरीज टेस्ट लैंप

पोर्टेबल सीरीज टेस्ट लैंप (Test Lamp) और साधे टेस्ट लैंप (Test Lamp) में सिर्फ थोड़ा ही फर्क होता है। पोर्टेबल सीरीज टेस्ट लैंप (Test Lamp) बनाने के लिए आप हमेशा वायर ज्यादा लंबी लें (12 से 15 फुट का एक टुकड़ा)

पोर्टेबल टेस्ट लैंप (Test Lamp) बनाने के लिए नीचे दिए इलेक्ट्रिकल समान की जरूरत होती है।

  1. एक पेन्डेन्ट बल्ब होल्डर (Pendant Bulb Holder)
  2. वायर (wire) कम से कम 2 फुट
  3. एक इनकेडिसेन्ट बल्ब (Incandescent Lamp) 100 वॅट या 200 वॅट का
  4. 2-पिन मेल-फीमेल प्लग

स्टेप 1

साधा टेस्ट लैंप (Test Lamp) जिस तरह से बनाया जाता है बस उसी तरह से लंबी वायर का टेस्ट लैंप (Test Lamp) बना लें।

स्टेप 2

जैसा कि नीचे इमेज में दिखाया गया है। टेस्ट लैंप (Test Lamp) के होल्डर से 1 या 2 फुट के अंतर पर 2 मे से कोई भी एक वायर कट कर कर लें.

series test lamp diagram in hindi

स्टेप 3

मेल प्लग को ओपन कर लें। और जो वायर कट की है, वह कट हुए दोनों सिरे मेल प्लग के दोनों टर्मिनल्स से जोड़ दे। मतलब मेल प्लग को साधे टेस्ट लैंप (Test Lamp) के सीरीज में जोड़ दे।

Series Testing Lamp In Hindi

स्टेप 4

फीमेल प्लग खोलकर जैसा कि नीचे इमेज में दिखाया गया है दोनों टर्मिनल एक wire से शार्ट कर दें। और फीमेल प्लग के कवर लगा लें।

Series Test Lamp Making In Hindi

आपका पोर्टेबल सीरीज टेस्ट लैंप (Portable Series Test Lamp) तैयार है। तो था न बहुत ही आसान।

पोर्टेबल सीरीज टेस्ट लैंप (Portable Series Test Lamp) को कैसे use करते हैं?

दोस्तों पोर्टेबल सीरीज टेस्ट लैंप (Portable Series Test Lamp) को अगर आप एक साधे टेस्ट लैंप (Test Lamp) की तरह इस्तेमाल (Use) करना चाहते हैं तो, उसमे लगी 2 पिन मेल प्लग को, बनाई गई फीमेल पिन से कनेक्ट कर दें।

और जो लंबी वायर है उसे लपेटकर आपको जितनी wire की जरूरत है। बस उतनीही वायर बाहर रखें। 

टेस्ट लैंप (Test Lamp) में बल्ब लगाकर आप इसकी मदत से साधे टेस्ट लैंप (Test Lamp) की तरह फेज, न्यूट्रल और अर्थिंग चेक कर सकते हैं।

पोर्टेबल सीरीज टेस्ट लैंप (Test Lamp) को सीरीज टेस्टिंग बोर्ड की तरह कैसे इस्तेमाल (Use) करते हैं।

आगर आपको इस टेस्ट लॅम्प का इस्तेमाल एक सीरीज टेस्टिंग बोर्ड के जैसा करना है, तो उसमें लगे 2-पिन मेल प्लग मेसे फीमेल प्लग को निकालें।

लपेटी हुई wire खोलकर जरूरत के हिसाब से वायर खुली रखें।

जिस जगह आप काम कर रहे हों वहां किसी भी स्विच बोर्ड के सॉकेट में टेस्ट लैंप (Test Lamp) की 2-पिन मेल प्लग लगाएं। और उस सॉकेट का स्विच on करें।

अब आप टेस्ट लैंप (Test Lamp) की दो wire से किसी इलेक्ट्रिकल उपकरण को चेक करने के लिए टेस्ट लैंप (Test Lamp) की 2 वायर्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

पोर्टेबल सीरीज टेस्ट लैंप (Test Lamp) इस्तेमाल करते समय ध्यान रखने वाली बात

सिरीज टेस्टिंग लैंप बनाना

अगर आप इस तरह के टेस्ट लैंप (Test Lamp) का उपयोग सीरीज टेस्ट लैंप (Test Lamp) के लिए कर रहे हों तो, 2-पिन प्लग का जो टर्मिनल पॉइंट सीधे बल्ब होल्डर से जुड़ा हो सिर्फ उसी टर्मिनल को सॉकेट के फेज टर्मिनल में डालें। ऐसा न करने पर अगर कोई विद्युत उपकरण अर्थिंग से अगर जुड़ा हो, और आप उस उपकरण की बॉडी इस टेस्ट लैंप (Test Lamp) से चेक करना चाहें तो शार्ट सर्किट हो सकता है।

सीरीज टेस्ट लैंप (Series Test Lamp)

सीरीज टेस्ट लैंप (Series Test Lamp)

इस टेस्ट लैंप (Test Lamp) के नाम से ही पता चलता है कि इसमें 2 लैम्प्स use होते हैं।

लेकिन सीरीज टेस्ट लैंप (Series Test Lamp) का कनेक्शन कैसा होता है?

तो दोस्तों सीरीज टेस्ट लैंप (Test Lamp) में 2 साधे टेस्ट लैंप (Test Lamp) एकदूसरे के सीरीज में होते हैं। जैसा कि इमेज में दिखाया गया है।

सीरीज टेस्ट लैंप (Series Test Lamp) का उपयोग कहाँ किया जाता है।

सीरीज टेस्ट लैंप (Series Test Lamp) का उपयोग 3 फेज सप्लाय को चेक करने के लिए किया जाता है। (415 वोल्ट तक के सप्लाई चेक करने के लिए)

दोस्तों अगर आप इलेक्ट्रिकल का काम करने के लिए बिल्कुल नए हैं। तो प्लीज 3 फेज सप्लाई पर काम किसी एक्सपर्ट के बिना न करें। यह आपके लिए धोकादायक हो सकता है।

सीरीज टेस्ट लैंप (Series Test Lamp) कैसे बनाते हैं?

Test Lamp Circuit diagram

सीरीज टेस्ट लैंप (Series Test Lamp) बनाने के लिए नीचे दिए इलेक्ट्रिकल समान की जरूरत होती है।

  1. 2 पेन्डेन्ट बल्ब होल्डर (2 Pendant Bulb Holder)
  2. वायर (wire) कम से कम 2 फुट (3 टुकड़े)
  3. 2 इनकेडिसेन्ट बल्ब (Incandescent Lamp) 100 वॅट या 200 वॅट के

दोस्तों याद रहे सीरीज टेस्ट लैंप (Series Test Lamp) का use करते समय दोनों बल्ब एक समान वाट के होने चाहिए। अगर एक बल्ब 100 वाट का है तो दूसरा 100 watt का ही लेना पड़ेगा। अगर 200watt के बल्ब आपने लिया है तो दूसरा भी 200 वाट का ही लेना पड़ेगा।

स्टेप 1

एक साधा टेस्ट लैंप (Test Lamp) बनाये।

स्टेप 2

बनाये हुते टेस्ट लैंप (Test Lamp) की एक वायर का सिरा दूसरे होल्डर के टर्मिनल से जोडें।

स्टेप 3

दूसरे होडल्डर के दूसरे टर्मिनल से तीसरी वायर जोडें। इस तरह से डबल टेस्ट बनाया जाता है।

सीरीज टेस्ट लैंप (Series Test Lamp) से 3 फेज कैसे चेक करते हैं?| 3 phase supply kaise check kar?

3 फेज सप्लाई सिस्टम में R Y B इस तरह 3 फेज होते हैं। और कई जगह पर इन 3 फेजों के साथ एक न्यूट्रल wire भी होती हैं।

3 फेज के बारे में विस्तार से पढ़ें।

3 फेज सप्लाई चेक करने के लिए सीरीज टेस्ट लैंप (Series Test Lamp) ही क्यों Use किया जाता है?

R Y B में से अगर किन्ही 2 फेज में साधा सिंगल लम्प का टेस्ट लैंप (Test Lamp) use करें तो उस टेस्ट लैंप (Test Lamp) का बल्ब फ्यूज हो जाएगा। या बड़ा शार्ट सर्किट हो सकता है। ऐसा न हो इसलिए सीरीज टेस्ट लैंप (Test Lamp) (Series Test Lamp) use किया जाता है।

3 फेज में होने वाले कौनसे फोल्ट्स कैसे चेक कर सकते हैं?

जैसा कि इमेज में दिखाया गया है। R,Y,B, तीन फेज और एक न्युट्रल 3 फेज DB में आया होता है। कई बार ऐसा होता है कि, 3 फेज मेसे कोई एक फेज बीच मे कट हो जाता है। ऐसा होने पर 3 फेज इंडक्शन मोटर काम नही कर सकती।

और कई बार ऐसा देखा गया है कि, टेस्टर से चेक करने पर R, Y, B, में टेस्टर ब्लो होता है। लेकिन 3 फेज मोटर काम नही कर पाती हैं।

दोस्तों ऐसा तब होता है। जब 3  फेज मेसे कोई एक फेज कट हो जाए। और जो फेज ओपन हुआ है, उस वायर में से बाकी बचे 2 फेज में से कोई एक शार्ट होकर DB BOX तक आ रहा हो. यह केबल फोल्ट्स या ओवरहेड लाइन शार्ट होने की वजह से हो सकता है।

तो दोस्तों इस तरह के फॉल्ट का पता लगाने के लिए सीरीज टेस्ट लैंप (Series Test Lamp) एक अच्छा और सस्ता टूल होता है।

सीरीज टेस्ट लैंप (Series Test Lamp) से 3 फेज कैसे चेक करते हैं?| 3 phase supply kaise check kare

3 फेज DB Box में R, Y, B और न्युट्रल इनकमिंग पॉइंट्स होते हैं। R,Y,B और न्युट्रल का पता आप केबल वायर्स के कलर से पता कर सकते हैं।

R Phase के लिए लाल (Red) रंग की वायर

Y Phase के लिए पिले (Yellow) रंग की वायर

B Phase के लिए नील (Blue) रंग की वायर और

N न्युट्रल के लिए काले (Black) रंग की वायर का उयोग किया जाता है।

लेकिन R,Y,B और N में सही से सप्लाई आ रहा है या नही लिसका पता सीरीज टेस्ट लैंप (Series Test Lamp) से लगाया जाता है।

सीरीज टेस्ट लैंप (Series Test Lamp) से 3 Phase कैसे चेक करते हैं? | How to check 3 phase with double test lamp?

1 thought on “टेस्ट लैंप क्या होता है?| टेस्ट लैंप कैसे बनाते हैं। | What is a test lamp? | How to make Test Lamp In Hindi”

अपना अभिप्राय दर्ज करें

%d bloggers like this: